Join Telegram group Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now

BPSC Update: BPSC पास टीचर एक मिनट सुन लीजिए! अगर अब तक नहीं किए हैं ये जरूरी काम, तो रद्द हो सकता है आपका ज्वाइनिंग लेटर।

BPSC Update: BPSC पास टीचर एक मिनट सुन लीजिए अगर अब तक नहीं किए हैं ये जरूरी काम, तो रद्द हो सकता है आपका ज्वाइनिंग लेटर।

BPSC

बीपीएससी अध्यापक भर्ती परीक्षा प्रथम चरण में सीतामढ़ी जिले में 1664 परिणाम के विरुद्ध 1591 का नियुक्ति पत्र जारी किया गया था। विभिन्न प्रक्रिया के बाद इन शिक्षकों को स्कूल भी आवंटित कर दिया गया है। इसके बावजूद 44 ऐसे शिक्षकों को चिह्नित किया गया है, जो स्कूल आवंटित होने के बाद भी अपने स्कूलों में अब तक योगदान नहीं कर सके। जबकि 38 शिक्षकों ने अब तक अपना पदस्थापन पत्र प्राप्त नहीं किया।

BPSC Overview

Name of the Article  BPSC Update
Type of the Article रद्द हो सकता है आपका ज्वाइनिंग लेटर
OFFICIAL WEBSITE Star Gurukul 
Detailed Information  Please Read The Article Completely

सीतामढ़ीः 

बीपीएससी से प्रथम चरण में अनुशंसित शिक्षक अभ्यर्थियों से जुड़ा ‘लफड़ा’ अभी खत्म नही हुआ है। एक लफड़ा निबट रहा है, तो दूसरा सामने आ जा रहा है। विभाग भी इन लफड़ों से हलकान है और अब कई लफड़ों के निदान के लिए एक हल निकाला है। दरअसल, विभाग के समक्ष समस्या यह है कि कुछ शिक्षक अभ्यर्थी नियुक्ति-पत्र नही ले सके है। ऐसे में इन अभ्यर्थियों के साथ क्या किया जाए, यह विभाग के समक्ष विचाराधीन था। वैसे अब निर्णय लिया जा चुका है। इसके आलावा कई शिक्षक नियुक्ति-पत्र तो लिए, पर डीईओ कार्यालय में योगदान ही नही कर सके। विभाग ने ऐसे शिक्षकों के खिलाफ ठोस और अंतिम कदम उठाने का निर्णय लिया है।

योगदान को तीन दिन का समय:

माध्यमिक शिक्षा निदेशक कन्हैया प्रसाद श्रीवास्तव ने गत दिन पत्र भेज डीईओ को कहा है कि जो शिक्षक अभ्यर्थी तदर्थ नियुक्ति पत्र लेकर नदारद है, उन पर तुरंत कार्रवाई करें। वहीं, तदर्थ नियुक्ति पत्र और स्कूल पदस्थापन पत्र प्राप्त कर योगदान नही किए है। वहीं, जो उक्त दोनों पत्र हासिल करने के बाद योगदान भी किए, लेकिन कंप्यूटर पर उनका योगदान स्वीकृत नही हुआ और नदारद भी है। ऐसे शिक्षकों के खिलाफ अब कड़ा एक्शन लेने की जरूरत है। निदेशक ने योगदान नही करने वाले ऐसे शिक्षकों की नौकरी समाप्त करने का निर्देश दिया है।
इन शिक्षकों के खिलाफ भी एक्शन

विभाग ने कहा है कि वैसे शिक्षक है, जो सभी तरह के पत्र प्राप्त कर योगदान कर चुके है, कंप्यूटर पर उनका उनका योगदान स्वीकृत हो चुका है। फिर भी स्कूल से नदारद चल रहे है। ऐसे शिक्षकों को पहले निलंबित करने और दो माह में विभागीय कार्यवाही पूरी कर सेवा से बर्खास्त करने का निर्देश दिया है। उक्त निर्देश के आलोक में डीईओ प्रमोद कुमार साहू ने विज्ञापन प्रकाशित करने को सूचना एवं जनसंपर्क विभाग को पत्र भेजा है, जिसमें इन शिक्षकों को तीन दिन के अंदर योगदान नही करने पर सेवा समाप्त करने की चेतावनी दी गई है।

विभाग को 82 शिक्षकों का इंतजार:

स्थानीय शिक्षा विभाग को 82 शिक्षकों का इंतजार है। ये सभी शिक्षक अभ्यर्थी उसी चारों श्रेणी के है। यानी अबतक अपना योगदान नही दे सके है। इन्हीं शिक्षकों को योगदान के लिए तीन दिन वाला अल्टीमेटम दिया गया है। इनमें से 44 ऐसे शिक्षक है, जो नियुक्ति पत्र और स्कूल पदस्थापन पत्र लेकर स्कूल में योगदान नही कर सके है। वहीं, 38 ऐसे शिक्षक है, स्कूल पदस्थापन पत्र प्राप्त नहीं कर सके है। ध्यान रहे कि प्रथम चरण में जिले में 1644 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र मिला था।

Some Important Links

OFFICIAL WEBSITE  CLICK HERE 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page